ओमिक्रोन के संक्रमण से बचना है तो अपनी डाइट में शामिल करें ये 7 फूड्स

ओमिक्रोन कोरोना वायरस का ही एक नया रूप (वैरिएंट) है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने इसकी जानकारी पहली बार 24 नवंबर 2021 को दी थी।यह जानकरी उन्हें दक्षिण अफ्रीका से मिली थी। इस वायरस के कारण व्यक्ति के शरीर में दर्द रहता है और व्यक्ति थकान भी महसूस करता है।इस वायरस के संक्रमित व्यक्ति को कमजोरी बहुत होती है।इसलिए शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए और ओमिक्रोन के संक्रमण से बचने के लिए ये 7 फूड्स अपने डाइट में जरूर शामिल करें।

ओमिक्रोन के संक्रमण से बचने के लिए ये फूड्स

हल्दी

अपने खाने व पीने की चीजो में हल्दी का इस्तेमाल अवश्य करें। हल्दी में ऐंटी इंफ्लेमेटरी और औषधीय गुण होता है जो शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है और शरीर को वायरस से लड़ने के लिए ताकत।हल्दी में निहित करक्यूमिन गुण शरीर को शक्ति प्रदान करता है।

गर्म दूध में हल्दी मिलाकर पीने से गले में खराश और दर्द के समस्या से निजात मिलता है।इसके साथ ही साथ स्टूल भी साफ से होता है। जिससे पेट से संबंधित समस्या में बहुत हद तक आराम होता है।हल्दी में एंटीऑक्सीडेंट का गुण होने के कारण यह सर्दी-जुकाम में भी बहुत असरदार साबित होती है।

अदरक

अदरक में एंटीऑक्सीडेंट,ऐंटी इंफ्लेमेटरी और औषधीय गुण होता है जो शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती तो है ही साथ ही साथ यह वायरस से लड़ने की क्षमता रखती है।अदरक को काढ़ा में उबालकर पीने से सर्दी-जुकाम और कफ में बहुत आराम मिलता है और शरीर का इम्यून सिस्टम मजबूत होता है।इसलिए अपने खान-पान में अदरक का सेवन अवश्य करें।

शहद

शहद में ऐंटी इंफ्लेमेटरी तत्व होता है जो गले में खराश और दर्द के समस्या से निजात दिलाता है।और इसका स्वाद भी बहुत अच्छा होता है। शहद में एंटीऑक्सीडेंट का गुण होने के कारण यह आतं एवं पाचन संबंधित समस्याओ में भी असरदार होता है। इसको काढ़ा में मिलाकर पीने से सर्दी-जुकाम में बहुत आराम मिलता है और साथ ही साथ काढ़ा का स्वाद भी अच्छा हो जाता है।इसलिए अपने डाइट में शहद जरूर लेंवें।

घी

गाय का बने हुए घी में ऐंटी इंफ्लेमेटरी और औषधीय गुण होता है जो शरीर को गरम रखता है जिससे सर्दी-जुकाम की समस्या न के बराबर होती है। यह एक ऐसा फैट है जो आसानी से पच जाता है।गर्म दूध में घी मिलाकर पीने से पेट साफ रहता है और सर्दी-जुकाम से संबंधित समस्या में भी कमी आती है।इसलिए अपने खाने व पीने की चीजो में घी का इस्तेमाल अवश्य करें।

आंवला

आंवला में प्रचुर मात्रा में विटामिन सी होता है।विटामिन सी शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती तो है ही साथ ही साथ शरीर के इम्यून सिस्टम को भी मजबूत करने में सक्षम होती है।

ड्राई फ्रूट्स (किशमिश, मुनकका,बादाम)

ड्राई फ्रूट्स (किशमिश, मुनकका,बादाम) में एंटीऑक्सीडेंट के गुण होने के साथ-साथ विटामिन ई,बीटा कैरोटीन, मैग्नीशियम, कैल्शियम ,और बी कॉम्लेक्स विटामिन पाया जाता है जो वायरस से लड़ने की ताकत शरीर को देता है और शरीर की इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है।

शकरकंद

यह फल औषधीय गुण से परिपूर्ण होता है।इस फल में बीटा कैरोटीन के साथ साथ मैग्नीशियम, कैल्शियम ,और बी कॉम्लेक्स विटामिन भी पाया जाता है।जो सर्दी-जुकाम को शरीर से दूर रखता है और शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करता है।

यदि इस ओमिक्रोन के संक्रमण से बचना है तो अपनी डाइट में ये 7 फूड्स जरूर शामिल करें और WHO द्वारा जारी निर्देश का सख्ती से पालन करें।

Leave a Comment